मंगलवार, 23 अगस्त 2011

दो हाथियों की लड़ाई -उदयप्रकाश

          दो हाथियों का
             लड़ना
सिर्फ दो हाथियों के समुदाय से
     सम्बन्ध नहीं रखता /

दो हाथियों की लड़ाई में
सबसे ज्यादा कुचली जाती है
घास , जिसका
हाथियों के समूचे कुनबे से
कुछ भी लेना-देना नहीं/

जंगल से भूखी लौट जाती है
           गाय
और भूखा सो जाता है
घर में बचा

दो हाथियों   के
 चार  दांतों  और आठ पैरों द्वारा
सबसे ज्यादा  घायल होती है
बचीय  बचचे की नींद ,
सबसे अधिक असुरक्षित होता है
हमारा भविष्य /
दो हाथियों की लड़ाई में
सबसे  ज्यादा
टूटते हैं पेड़

सबसे ज्यादा मरती हैं
चिड़ियाँ ,
जिनका हाथियों के पूरे  कबीले से कुछ भी
लेना - देना नहीं
दो हाथियों की
लड़ाई को
हाथियों से ज्यादा
सहता है जंगल /
और इस लड़ाई में
जितने घाव बनते हैं
हाथियों के  उन्मत्त शरीरों पर
उससे कहीं ज्यादा
गहरे घाव
बनते हैं जंगल और समय
की छाती पर/
जैसे भी हो
दो हाथियों को
लड़ने से रोकना चाहिए /

1 टिप्पणी:

  1. मुश्किल तो है कि आज हर कोई अपने को हाथी ही समझता है। ऐसे में कौन किसको समझाए ...? कौन किसको रोके?

    उत्तर देंहटाएं